बैंक का लोन न चुकाने पर बैंक क्या करता है | Bank ka Loan Na chukaane par Bank kya karata hai

Name of service:-बैंक का लोन न चुकाने पर बैंक क्या करता है
Post Date:-20/11/2021
Post Update Date:-
Short Information:-आज हम बात करेंगे  बैंक का लोन न चुकाने पर बैंक क्या करता है| के बारे में|देश में बहुत सारा बैंक जो लोन प्रदान करती हैं| इस पोस्ट को पढ़कर आपको बैंक का लोन न चुकाने पर बैंक क्या करता है  से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी इसलिए इस पोस्ट पर अंत तक जुड़े रहे |

लोन के भुगतान में देरी पर क्या होता है ?

How to Get Instant Personal Loan By Aadhar Card|

भारतीय रिजर्व बैंक के अनुसार अगर कोई भी लोन लेने वाला व्यक्ति 90 दिनों के अंदर बैंक की राशि या EMI का भुगतान नहीं करता है तो प्रकार के चीजों को non preforming asset मान लिया जाता है इस प्रकार के परिस्थिति में बैंक बैंक के अकाउंट holder को एक नोटिस भेजता है उसमें एक साथ लोन चुकाने की बात का उल्लेख होता होता है इसके बाद आप bank के नोटिस का जवाब देना होगा अगर आप उनके नोटिस का जवाब नहीं देते हैं तो बैंक आपके ऊपर कानूनी करवाई कर सकता है

आपको पता है फिनो पेमेंट क्या है अगर आपको नहीं पता है फिनो पेमेंट बैंक क्या है तो मैं आपको बतादु के फिनो पेमेंट बैंक एक बैंक ही है

Fino Payment Bank क्या है

लोन ना चुकाने के सूरत में बैंक क्या करता है

Bank ka Loan Na chukaane par Bank kya karata hai

How To Get Apply MSME Loan in Bihar 2021

आमतौर पर जब भी कोई अकाउंट होल्डर बैंक के द्वारा भेजे गए नोटिस का जवाब नहीं देता है तब बैंक उसे ठीक है 5 महीने बाद दूसरी नोटिस भेजेगा और उसमें इस बात का उल्लेख होगा कि आपके पास जितने भी संपत्ति है उसे नीलाम करने के लिए एक तारीख निश्चित कर दी गई है और आपकी संपत्ति की कुल value कितनी है उसके बारे में भी आपको बैंक की तरफ से जानकारी दे दी जाएगी इस प्रकार की प्रक्रिया बैंक आपको दूसरे नोटिस भेजने के बात करता है इस प्रकार की कार्रवाई अधिकांश प्रॉपर्टी लोन के क्षेत्र में अधिक होती है जहां लोग अपने जमीन या दूसरे प्रॉपर्टी को बैंक में सिक्योरिटी के डॉक्यूमेंट के तौर पर जमा कर लोन प्राप्त करता है ऐसे सिटी में जिनके पास अधिकार होते हैं कि उनके जमीन को नीलाम कर कर अपने पैसे वसूल सके सबसे महत्वपूर्ण बात किस प्रकार की कार्रवाई करने से पहले अकाउंट होल्डर के ऊपर काफी दबाव बनाता है कि वह बैंक के पैसे लौटा दे अगर कर्जदार ऐसा नहीं करता है तब जाकर बैंक उसके प्रॉपर्टी के नीलामी की प्रक्रिया को शुरू करता है

बैंक क्या कर सकता है

SBI e Mudra Loan Online Apply |

साल 2002 में भारतीय संसद में एक बिल पास किया जिसके तहत अगर कोई भी व्यक्ति बैंक लोन को नहीं छुपाता है तो बैंक उसके संपत्ति को नीलाम कर कर अपनी राशि वसूल करने का अधिकार रखता है सबसे महत्वपूर्ण बात के इस प्रकार की कार्रवाई करने से पहले बैंक को दूसरी ऑप्शन पर भी गौर करना होगा क्योंकि इस प्रकार अपने फंसे हुए पैसे को कर्जदार से ले सके किसी भी व्यक्ति की संपत्ति को नीलामी करना बैंक सबसे आखरी में करता है जब उसके पास कोई भी ऑप्शन नहीं बचता है बैंक का प्रमुख हमें लोन देना और निश्चित अवधि के बाद पैसे प्राप्त करना होता है

प्रॉपर्टी नीलाम होने के बाद क्या होता है

PM Mudra Loan Yojana Online Apply

बैंक जब किसी कर्जदार के संपत्ति को नीलाम करता है, तो उसे अपने फंसे हुए पैसे को वसूल करने में आसानी होती है, लेकिन कई बार ऐसा होता है कि बैंक जिस व्यक्ति का संपत्ति नीलाम कर रहा है उस व्यक्ति ने बैंक से अधिक लोन ले रखा है और संपत्ति की कीमत लोन के लिए राशि से काम है ऐसे स्थिति में बैंक को बाकी पैसे चुकाने पड़ते हैं जिससे बैंक को नुकसान का भी सामना करना पड़ता है. इसके विपरीत अगर आपकी संपत्ति की राशि है आपने जो लोन लिया है उससे अधिक है तो बाकी पैसे बैंक आपके अकाउंट में जमा करेगा इसलिए कर्जदार को इस अधिकार के बारे में जानकारी होने अति आवश्यक है इस प्रकार के नियम का निर्माण आरबीआई ने बनाया है

अगर आपको कोई भी Documents Resize करना है तो आप इस वेबसाइट Photo/Signature resize के थ्रू कर सकते हैं

Interested Candidates Can Read the Full Notification Before Apply Online

Important Link

किसान क्रेडिट कार्ड ऑनलाइन आवेदन कैसे करेClick Here
बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड ऑनलाइन अप्लाई कैसे करेClick Here
Atal Pension Yojana Online Apply 2021Click Here
प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना 2021Click Here
5 मिनट में मिलेगा 50000 तक का लोनClick Here
Aadhar Card से इंस्टेंट लोन कैसे ले |Click Here
India Post Payment Bank CSP Apply OnlineClick Here
HDFC Bank Account Opening Zero BalanceClick Here
Bihar Official WebsiteClick Here

बैंक का लोन न चुकाने पर क्या होता है Full Video

EMI नहीं चुकाने पर क्या होता है

Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana 2021

अगर आपने बैंक से लोन लिया है और EMI नहीं चुका रहे हैं तो इस स्थिति में बैंक आप को एक नोटिस भेजेगा और अगर आपने उस नोटिस का जवाब नहीं दिया था आपके ऊपर कानूनी कार्रवाई कर सकता है इसके अलावा अगर आप भी बैंक एमआई को नहीं चुका रहे हैं तो सबसे पहले आप बैंक में जाएं इसके बाद आप बैंक के मैनेजर से अपनी समस्या को बताया ताकि आपको EMI चुकाने के लिए मोहलत मिल जाए इसके अलावा अगर किसी भी कर्जदार की मौत हो जाती है तो ऐसे में बैंक पैसे की वसूली के उसके कानूनी उत्तराधिकारी से प्राप्त करेगा और उत्तराधिकारी भी नहीं है तो बैंक ऐसे व्यक्ति के पास पहुंचेगा जिसने उस व्यक्ति को लोन दिलाने के लिए अपनी ग्रांटेड बैंक में दी थी

kcc loan न चुकाने पर क्या होगा

अगर आपने किसान क्रेडिट कार्ड के द्वारा लोन लिया है और अगर आप उस लोन की राशि को झुका पाने में असमर्थ हैं तो इसके लिए आपको बैंक में जाकर अपनी समस्या को बताना होगा और हाल के दिनों में सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड के द्वारा लोन लेने वाले किसानों को राहत देते हुए पैसे चुकाने के करने की अवधि को बढ़ा दिया है लेकिन स्थिति में किसान को 4% के बजाय 7% ब्याज दर देना होगा सबसे महत्वपूर्ण बात कि अगर आपने किसान क्रेडिट कार्ड के द्वारा लोन लिया है तो आपको निश्चित अवधि के अंदर आपने लोन की राशि को चुका देना चाहिए नहीं तो आप को जेल की हवा भी खानी पड़ सकती है हाल के दिनों में बैंक ने कई किसानों को नोटिस भेज कर पैसे जमा करने के लिए कहा था और जब उन्होंने ऐसा नहीं किया तो उनके ऊपर कानूनी कार्रवाई करते हुए उन्हें जेल भेज दिया इसलिए आप कभी भी बैंक के द्वारा भेजे गए नोटिस को नजरअंदाज ना करें

ऋण वसूली करने के नियम

आरबीआई ने ऋण वसूली करने के लिए नए नियम जारी किए हैं जिसके तहत अगर कोई भी व्यक्ति या कंपनी है बैंक के लोन को चुकाने में असमर्थ है उसे सबसे पहले बैंक में जाकर जो भी समस्या है उसे बताने होगी अगर बैंक को लगता है कि आपकी समस्या काफी गंभीर है तो आपको full और फाइनल सेटलमेंट के लिए ऑफर करेगा जिसके बाद बैंक को एक निश्चित राशि प्रदान करेंगे जिससे आपने जो भी लोन लिया है उसने आपको छुटकारा मिल जाएगा इसके विपरीत अगर कोई भी व्यक्ति जिसने बैंक से अधिक मात्रा में पैसे ले रखे हैं बैंक के पैसे नहीं चुका रहा है तो बैंक के पास अधिकार है उसके संपत्ति नीलाम कर के अपने पैसे वसूल कर सके इस प्रकार के दिशा निर्देश बैंकों को जारी की है .

मुद्रा लोन नहीं चुकाने पर क्या होगा

जैसा कि आप जानते हैं कि मुझे लोन की शुरुआत सरकार ने कम ब्याज दर पर लोगों को लोन देने के बजे से शुरू किया जिसका मकसद आर्थिक रूप से कमजोर लोग अपना बिजनेस कर सके ऐसे में अगर आपने भी मुद्रा लोन लिया है और उसे आप नहीं चुकाते हैं तो इस स्थिति में बैंक कोई उचित कार्रवाई करेगा या नहीं इसके लिए भी कोई भी सरकार की तरफ से सरकुलेशन जारी नहीं हुआ है आरबीआई ने वित्त मंत्रालय को चेतावनी देते हुए कहा है कि हाल के दिनों में मुद्रा लोन नहीं चुकाने वाले लोगों में 27% की बढ़ोतरी हुई है सरकार इस दिशा में कोई ठोस कदम उठाया हो सकता है आने वाले समय में सरकार की तरफ से इस दिशा में कोई दिशानिर्देश जारी हो जैसे इसके बारे में कोई जानकारी हमें प्राप्त होती है उसके बारे में भी हम आपको अपडेट कर देंगे .

अगर नहीं चुका पा रहे हैं लोन तो न हों परेशान, यहां पढ़ें अपने ये अधिकार

पहला अधिकार- लोन लेने वाले लोगों के साथ बैंक के एजेंट या अधिकारी किसी प्रकार की बदसलूकी नहीं कर सकते हैं बैंक एजेंट या अधिकारी लोन देने वाले लोगों के घर कभी भी नहीं जा सकते हैं बल्कि इसके लिए एक निश्चित समय अवधि बनाई है 7:00 बजे सुबह से लेकर 7:00 बजे रात के बीच वाले लोन लेने वाले लोगों के घर जा सकते हैं अगर लोन लेने वाला व्यक्ति बैंक को परमिशन देता है तबकिसी भी बारोअर को तंग नहीं कर सकते और वे उनकी फैमिली को भी नुकसान नहीं पहुंचा सकते। आरबीआई माने तो यदि कोई एजेंट ऐसा करता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सकती है

दूसरा अधिकार- बैंक किसी भी कर्जदार को अपराधी की श्रेणी में नहीं रख सकता है जब तक बैंक अपने पूरे नियम का पालन ना करें जैसा कि आप लोग जानते हैं कि बैंक सबसे पहले लोन लेने वाले व्यक्ति को नोटिस भेजता है और 90 दिनों के अंदर अगर व्यक्ति कोई जवाब नहीं देता है तो बैंक उस व्यक्ति को डिफॉल्टर घोषित करता है इसके बाद के लिए 60 दिनों की नोटिस जारी करता है ताकि व्यक्ति बैंक के पैस pay कर सके .यदि इस नोटिस के बाद भी बैंक को पेमेंट करने में फेल होते है तो बैंक उसकी असेट को नीलाम कर सकती है। हालांकि प्रॉपर्टी की ऑक्शन करने से पहले भी बैंक को पब्लिक नोटिस देना होता है।

तीसरा अधिकार- बैंक किसी भी व्यक्ति के संपत्ति को नीलाम करता है तो उसे बाकी के पैसे कर्जदार के अकाउंट में जमा करने पड़ते हैं इस प्रकार के अधिकार को जानना आपके लिए अति आवश्यक होता क्या है कि जब आप कि कोई संपत्ति बैंक के द्वारा नीलामी की जाती है और आपकी संपत्ति की कीमत लोन लेने वाले राशि से अधिक है तो ऐसी स्थिति में बैंक अपने पैसे वसूलने के बाद बाकी बचे पैसे को आपके अकाउंट में जमा करवाएगा .

चौथा अधिकार- बैंक अगर किसी संपत्ति को नीलाम करता है तो उसके लिए सबसे पहले कर्जदार को इसके बारे में जानकारी देनी होगी. संपत्ति की कीमत कितनी है? उसकी राशि बतानी होगी . आपको लगता है कि आप की संपत्ति कम रुपए में नीलाम की जाती है तो आप ऑब्जेक्शन लगा सकते हैं क्योंक आपका अधिकार है.

लोन सेटेलमेंट कैसे करें

लोन सेटेलमेंट का मतलब होता है कि आप बैंक को एक बार में एक निश्चित राशि आप को बैंक को देनी होगी इस प्रकार के राशि कानिर्धारण बैंक का अपने नियम और शर्तों के अनुरूप करता है जिसके बाद आपके पूरे लोन की राशि बैंक के द्वारा सेटलमेंट कर दी जाती है लोन सेटेलमेंट करने के लिए आपको बैंक में जाना होगा और वहां के मैनेजर से बात करनी होगी उसके बाद आपको वहां पर नियम और शर्तें बताए जाएंगे जिस पर आप सहमत होकर एक निश्चित राशि बैंक को जाएंगे और इस प्रकार आपकी पूरी लोन सेटलमेंट हो जाएगी

conclusion- उम्मीद करता हूं कि आपको आर्टिकल पसंद आया होगा अगर पसंद आए तो इसे लाइक और शेयर करना और अगर आपका कोई भी तो मेरे कमेंट बॉक्स में पूछें

Bihar Official Social Media

FacebookFollow Me
TelegramJoin Now
Bihar Official WebsiteClick Here
Telegram GroupClick Here
TwitterFollow Me
LinkedInFollow Me

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम आपतक सबसे पहले अपने इस Website के माधयम से पहुँचआते रहेंगे biharonlineportal.com, तो आप हमारे Website को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद,,,

नीचे दिए गए सोशल मीडिया के आइकॉन पर क्लिक करके आप हमारे साथ जुड़ सकते हैं जिससे आने वाली नई योजना की जानकारी आप तक पहुंच सके|

Leave a Comment

x