मत्स्य फसल बीमा योजना 2022 Online Apply | बीमा अनुदान राशी, लाभ, पात्रता

Name of service:-मत्स्य फसल बीमा योजना 2022 आवेदन प्रक्रिया
Post Date:-28/01/2022
Last Date For Apply:-28/02/2022
Beneficiary:-बिहार राज्य के मछली पालन करने वाले किसान
Apply Mode:-Online
Department:-Directorate of Fisheries Bihar
Short Information:-आज हम बात करेंगे Bihar Matsya Fasal Bima Yojana Registration & Benefits के बारे में। इस पोस्ट को पढ़कर आपको मत्स्य फसल बीमा योजना के लाभ और विशेषता, आवेदन प्रक्रिया, कितना अनुदान मिलेगा, पात्रता, कितना प्रीमियम देना है आदि से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी इसलिए इस पोस्ट पर अंत तक जुड़े रहे |

विषय की सूची

Bihar Matsya Fasal Bima Yojana Kya Hai

जिस प्रकार आपने बिहार फसल बीमा योजना, पशुधन बीमा योजना का नाम सुना है, उसी प्रकार बिहार सरकार ने अब मछली पालन करने वालों के लिए “मत्स्य-फसल बीमा योजना” शुरू की है | इस योजना के माध्यम से मछली पालन करने वाले किसान अपनी मछलियों का बीमा करा सकते हैं, जिससे मछली पालन करते समय यदि किसी कारणवश मछलियों की मृत्यु होती हैं या कोई क्षति होती है तो इस योजना के माध्यम से नुकसान की भरपाई की जाएगी, इस योजना के अंतर्गत बाढ़, सुखा, बीमारी सहित प्राकृतिक आपदा के दौरान मछली मरने या उत्पादन की कमी होने पर मत्स्य पालकों को मत्स्य फसल बीमा योजना का लाभ दिया जाएगा|

नितीश सरकार ने बिहार राज्य के ऐसे किसान जो की मछली पालन करते हैं और मछली पालकों करने वाले किसानों को किसी भी परिस्थिति में मछली मरने जाने के कारण आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता था। उनके लिए यह Bihar Matsya Fasal Bima Yojana शुरू की गई है | इस योजना के तहत एक वर्ष के अंदर मछली मरने या किसी अन्य प्रकार से नुकसानी होने पर मत्स्य पालक को भरपाई की जाएगी | इच्छुक व्यक्ति योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं |

मत्स्य फसल बीमा योजना के लाभ और विशेषता

  • Matsya Fasal Bima Yojana के माध्यम से मछली बीज या तैयार मछली के 80 प्रतिशत क्षति होने पर ही बीमा का लाभ दिया जाएगा।
  • मत्स्य फसल बीमा योजना के अंतर्गत मिलने वाली बीमा की राशि सीधा मछली पालन करने वाले किसानों के खाते में ही दी जाएगी
  • इस योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है कि इसमें मछलियों का बीमा करवाने पर उनके बीमा के प्रीमियम में भी 50 प्रतिशत का अनुदान बिहार सरकार देगी।
  • बिहार राज्य में मछली पालन करने वाले किसानों को यह बीमा नेशनल इंश्योरेंस कम्पनी के माध्यम से किया जाएगा।
  • पूंजी के अभाव में मत्स्यपालकों को दुबारा रोजगार शुरू करने में कठिनाई झेलनी पड़ती थी। लेकिन मत्स्यपालकों की इस समस्या के हल के लिए सरकार ने मत्स्य फसल बीमा योजना की शुरुआत की गई है।
  • मछली पालन करने वाले किसानों को बीमा राशि का लाभ देने के लिए तीन कैटेगरी में अलग अलग बीमा की राशि तय की गई है।

बिहार सरकार मछली फसल बीमा पर कितनी सब्सिडी देगी ?

बिहार मत्स्य फसल बीमा योजना के लिए आवेदन करने वाले व्यक्तियों को बीमा राशि में बिहार सरकार की ओर से 50% तक की सब्सिडी प्रदान की जाएगी| बिहार राज्य के मछली पालन करने वाले किसानों को प्राप्त होने वाली हैं सब्सिडी की राशि मत्स्य फसल बीमा योजना के अवयव पर आधारित हैं, बिहार मछली बीमा योजना में कुल तीन प्रकार के अवयव हैं जिनके बारे में नीचे पोस्ट में हमने आपको जानकारी भी प्रदान करें हैं|

अतः जिस भी अवयव के आधार पर आप मुख्यमंत्री मत्स्य फसल बीमा योजना के लिए आवेदन करते हैं उसके बीमा की राशि का 50% तक अनुदान बिहार सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा, तथा शेष राशि आपको प्रीमियम के रूप में जमा करनी है|

यह भी पढ़ें:-

बिहार मत्स्य फसल बीमा योजना 2022 के अवयव

मत्स्य फसल–बीमा योजना के तहत मछली पालन के तहत आने वाले विभिन्न अवयवों को शामिल किया गया है | यह सभी उप योजना इस प्रकार है :-

  • तालाब मात्स्यिकी से “मत्स्य उत्पादन” को प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा
  • हैचरी संचालन के लिए “मत्स्य प्रजनकों (ब्रुडर)” का उत्पादन किया जाएगा
  • नर्सरी / रियारिंग तालाब प्रबंधन से “मत्स्य बीज” (फ्राई/ फिंगरलिंग) का उत्पादन कार्प

मत्स्य पालक को योजना के तहत अधिकतम बीमित राशि कितनी दी जाएगी?

जैसा कि हमने आपको बताया कि बिहार मत्स्य फसल बीमा योजना 2022 के अंतर्गत मुख्य रूप से तीन प्रकार के अवयवों को शामिल किया गया है | सभी अलग-अलग प्रकार की योजना के प्रकारों या अवयवों के लिए बीमा राशि तय कर दी गई है |

Bihar Matsya Fasal Bima Yojana में बीमा राशि योजना के तहत 80 प्रतिशत की नुकसानी पर दी जाएगी | बिहार मछली पालन बीमा योजना के तहत भरपाई के लिए किसी भी हानि क्षति या दुर्घटना के 24 घंटे के अंदर लाभार्थी द्वारा जिला मत्स्य पदाधिकारी बिहार एवं कंपनी को 48 घंटे के अंदर जिला मत्स्य पदाधिकारी द्वारा कम्पनी को सूचित करना आवश्यक है |

मछली बीमा की राशि इस प्रकार है :-

  • तालाब मात्स्यिकी से मत्स्य उत्पादन:– बिहार मत्स्य पालन योजना के तहत तालाब मात्स्यिकी से मत्स्य उत्पादन पर अधिकतम बीमा राशि 2.76 लाख रूपये का रखा गया है |
  • तालाब प्रबंधन से मत्स्य बीज का उत्पादन :- नर्सरी/रियारिंग तालाब प्रबंधन से “मत्स्य बीज” (फ्राई/ फिंगरलिंग) उत्पादन के तहत अधिकतम बीमा राशि 7.00 लाख रूपये का रखा गया है|
  • मत्स्य प्रजनकों (ब्रुडर) का उत्पादन:- इस योजना के तहत कार्प हैचरी संचालन हेतु मत्स्य प्रजनकों (ब्रुडर)” का उत्पादन करने पर अधिकतम बीमा राशि 7.50 लाख रूपये तय की गई है |

बिहार मछली बीमा योजना में किसानों को कितना प्रीमियम देना है?

Bihar Matsya Fasal Bima Yojana Online Apply का लाभ लेने के लिए मछली पालने वाले किसानों को कुछ प्रीमियम का भुगतान करना होगा| Bihar Matsya Fasal Bima Yojana मैं के लिए बिहार सरकार द्वारा प्रीमियम की राशि निश्चित कर दी गई है | जिसमें आपको आगे पोस्ट में प्रीमियम राशि आयोग के आधार पर बताई गई है जो कि कुछ इस प्रकार हैं:-

  • तालाब मात्स्यिकी से “मत्स्य उत्पादन” :- इस योजना के तहत 20,700 + GST की प्रीमियम राशि प्रति हैक्टेयर तय की गई है |
  • तालाब प्रबंधन से मत्स्य बीज का उत्पादन :- नर्सरी/रियारिंग तालाब प्रबंधन से “मत्स्य बीज” (फ्राई/ फिंगरलिंग) उत्पादन के तहत 52,500 + GST प्रीमियम राशि प्रति हैक्टेयर तय की गई है |
  • मत्स्य प्रजनकों (ब्रुडर) का उत्पादन :- कार्प हैचरी संचालन हेतु मत्स्य प्रजनकों (ब्रुडर) का उत्पादन के तहत 56,250 + GST का प्रीमियम राशि प्रति हैक्टेयर तय की गई है |

बिहार मत्स्य फसल बीमा योजना 2022 के आवेदन की अंतिम तिथि क्या है?

बिहार मत्स्य फसल बीमा योजना 2022 के लिए आवेदन शुरू हो गए हैं, अगर आप इस योजना का लाभ लेने हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि 28 फरवरी 2022 निर्धारित की गई है, अगर आप मुख्यमंत्री फसल फसल बीमा योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो 28 फरवरी 2022 से पहले आवेदन अवश्य कर देवें|

यह भी पढ़ें:-

Matsya Fasal Bima Yojana Apply Documents Required

अगर आप बिहार मत्स्य फसल बीमा योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास मिलने दस्तावेजों का होना बेहद ही आवश्यक है:-

  • तालाब का भू – स्वामित्व प्रमाण पत्र,
  • मत्स्य प्रेक्षेत्रो में अनुभव का विवरण
  • मत्स्य प्रशिक्षण प्रमाण पत्र,
  • स्व लागत या फिर बैंक से शेष प्रीमियम राशि के भुगातन हेतु शपथ पत्र आदि।

अगर आपको कोई भी Documents Resize करना है तो आप इस वेबसाइट Photo/Signature resize के थ्रू कर सकते हैं

Join Telegram GroupClick Here
Bihar Matsya Fasal Bima Yojana RegistrationClick Here
Bihar Fish Farming Insurance Schemes LoginClick Here
Directorate of Fisheries BiharClick Here
Official YouTube ChannelSubscribe
Bihar Official WebsiteClick Here
Note:-
बिहार मदद से फसल बीमा योजना 2022 के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में सारी जानकारी इस पोस्ट में प्रदान की गई है इसलिए आप इस पोस्ट को पूरा अवश्य पढ़ें|

बिहार मत्स्य फसल बीमा योजना 2022 के लिए पात्रता

  • बिहार मछली पालन बीमा योजना के लिए आवेदन करने के लिए बिहार सरकार द्वारा कुछ पात्रता निर्धारित की गई है, इसके चयन के लिए बिहार सरकार ने द्वारा निम्न प्रकार की पत्रता सुनिश्चित की गई है:-
  • आवेदन करने वाला व्यक्ति बिहार राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए|
  • आवेदन करने वाले व्यक्ति मछली पालन होना चाहिए और उसे मछली पालन का प्रशिक्षण और अनुभव प्राप्त होना चाहिए |
  • बिहार मछली फसल बीमा योजना के अंतर्गत वैसे मछुआ / मत्स्य पालक / मत्स्य बीज उत्पादक आदि आच्छदित होंगे जो तालाब मात्स्यिकी से मत्स्य–उत्पादन, नर्सरी / रियारिंग तालाब प्रबंधक से मत्स्य बीज (फ्राई फिंगरलिंग) उत्पादन तथा कॉर्प हैचरी संचालन के लिए मत्स्य प्रजनक (ब्रुडर) का उत्पादन कर रहे हैं |
  • योजनान्तर्गत एक आवेदक एक या एक से अधिक अवयवों के लिए आवेदन अलग–अलग कर सकेंगे |
  • एक लाभुक को अधिकतम 2 हेक्टेयर जलक्षेत्र तक के लिए अनुदान अनुमान्य होंगे |
  • योजनान्तर्गत निजी अथवा पट्टे पर ली गई तालाब में योजना का लाभ देय होगा |

Bihar Fish Farming Insurance Schemes 2022 Online Apply

मछली पालक किसानो को योजना से कितना अनुदान मिलेगा?

बिहार मत्स्य योजना भौतिक लक्ष्यवित्तीय लक्ष्य(लाख मे)इकाई लागतअनुदान की राशी
तालाब मात्स्यिकी हेतु उन्नत इनपुट (एकड़)375011251.5050 प्रतिशत
उन्नत मत्स्य बीज उत्पादन की लक्ष्य प्रति यूनिट (1 यूनिट = 0.5 एकड़ )12503500.5650 प्रतिशत
मत्स्य बीज हैचरी का निर्माण (सं0)101102250 प्रतिशत
टयूबवेल पंप सेट (सं0)978366.750.7550 प्रतिशत

बिहार मत्स्य योजना 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

Bihar Machhali Beema Yojana 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार हैं:-

  • बिहार मध्य से फसल बीमा योजना 2022 के लिए आवेदन करने के लिए आपको पहले पंजीकरण करवाना होगा जिसकी प्रक्रिया निम्न है

Bihar Matsya Fasal Bima Yojana Registration

  • इसके लिए सबसे पहले आपको बिहार मत्स्य विभाग की ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिंक हमने आपको ऊपर इंपॉर्टेंट लिंक सेक्शन में दे रखा है आप उस पर क्लिक करके सीधे ही ऑफिशल वेबसाइट के होम पेज पर पहुंच जाएंगे|
  • जैसे ही आप होम पेज को ओपन करेंगे आपके सामने कई सारे ऑप्शन दिखाई देंगे लेकिन आपको ऊपर दिखाई दे रहे मत्स्य योजना हेतु आवेदन के विकल्प पर क्लिक करना है|
  • यहां पर से आपको पंजीकरण करने के लिए नया पंजीकरण करे के विकल्प को चुन लेना है|
  • जैसे ही आप उस विकल्प पर देख करेंगे आपके सामने कुछ इस प्रकार से Bihar Matsya Fasal Bima Yojana Registration Form ओपन हो जाएगा:-

 Bihar Matsya Fasal Bima Yojana Registration
  • यहां पर आपको सबसे पहले आवेदक की श्रेणी और मत्स्य फसल बीमा योजना के किस अवयव के लिए आवेदन करना चाहते हैं उसकी प्रकार को चुन लेना है
  • अपना नाम जन्म दिनांक आधार कार्ड संख्या मोबाइल नंबर पिता का नाम स्थाई पता तथा स्थानीय पता आदि जो भी जरूरी जानकारी मांगी जाती है उसे भरना है|
  • अब आपको अपनी शैक्षणिक योग्यता, पेशा तथा बैंक खाते से जुड़ी जानकारी प्रदान करना है|
  • सारी जानकारी प्रदान करने के बाद अंत में आपको इसे चेक कर लेना है और अपना मोबाइल नंबर डालकर ओटीपी प्राप्त करें के विकल्प पर क्लिक कर देना है|
  • आपके मोबाइल पर एक ओटीपी प्राप्त होगा जिसके आधार पर आप का पंजीकरण हो जाएगा|
  • इस ओटीपी में आपको बिहार मछली फसल बीमा योजना रजिस्ट्रेशन नंबर प्रदान किए जाएंगे तथा इसके बाद आपको अपना पासवर्ड बना लेना है|
  • अब आगे आवेदन करने के लिए आपको लॉग इन करने आवश्यकता पड़ती है जिसकी प्रक्रिया निम्न है:-

Fish Insurance Scheme Login

  • अब आपको आवेदन करने के लिए लॉग इन करना होगा जिसके लिए आपको लॉग इन करने के विकल्प पर क्लिक करना है|
  • यहां पर आपको अपना मोबाइल नंबर या रजिस्ट्रेशन नंबर डालना है|
  • इसके बाद आपको अपना पासवर्ड जो कि पंजीकरण करते समय बनाया हुई उसे डाल देना है और लोग इनके ऑप्शन पर क्लिक करना है|
  • जैसे ही आप लिखता नहीं है आपके सामने लॉगइन डैशबोर्ड ओपन हो जाएगा|
  • यहां पर से आपको बिहार मत्स्य फसल बीमा योजना हेतु आवेदन के विकल्प पर जाना है|
  • अब आपके सामने आवेदन ओम ओपन हो जाएगा जिसमें आपसे जो भी जानकारी मांगी जाती है उसे सबमिट करना है|
  • इसके बाद आपसे जो भी जरूरी दस्तावेज आवेदन फॉर्म में मांगे जाते हैं उन सभी को स्कैन करके अपलोड करना है|
  • सारी जानकारी देने के बाद अंत में आपको आवेदन फॉर्म को सबमिट करने देना है|

Bihar Matsya Fasal Bima Yojana का लाभ कब नही मिलेगा

निम्न स्थिति में मछली फसल बीमा योजना का लाभ प्रदान नहीं किया जाएगा:-

  • फसल व तालाबों के आधारभूत संरचना को किसी भी व्यक्ति द्वारा जानबूझकर नुकसान पहुंचाना,
  • सुरक्षा के मानकों को नजरअंदाज करना
  • जहर का प्रयोग करना
  • मछलियों को चोट पहुंचाना
  • मछली का चोरी हो जाना
  • मत्स्य बीज व मछलियों में असमान वृद्धि
  • प्रीडेटर शत्रु
  • खतरनाक कीड़े-मकोड़े
  • जल के भौतिक अथवा रसायनिक गुण
  • जल स्तर में कमी होने
  • सफाई व्यवस्था ना होना
  • जल परिवर्तन

निम्न कारणों से होने वाले नुकसान या जानबूझकर की गई मछलियों की मृत्यु पर बीमा का लाभ नहीं दिया जाएगा।

किन प्रजाति की मछलियों पर सरकार द्वारा बैन लगाया गया है

चलिए अब हम बात कर लेते हैं कि आपको किन प्रजाति की मछलियों का पालन नहीं करता है क्योंकि कुछ ऐसी प्रजातियां भी हैं जो हिंसक तथा मांसाहारी होती हैं जिस वजह से बिहार सरकार द्वारा ऐसी मछलियों के पालन पर प्रतिबंध लगाया गया है|

थाई मांगुर, बिग हेड एवं पाकु (रूपचंदा) विदेशी नस्ल की हिंसक मांसाहारी मछलियाँ हैं, जिनका भारत में अवैध तरीके से प्रवेश हुआ है। इनके पालन से खुले जलस्त्रोतों में जाने की पूर्ण आशंका है एवं खुले जलस्त्रोतों में जाने से स्थानीय विभिन्न मत्स्य प्रजातियों एवं अन्य जलजीवों के लिए यह विनाशकारी साबित होगा तथा स्थानीय प्रजातियाँ विलुप्त हो सकती है |

भारतीय मत्स्य प्रजातियों एवं अन्य जल-जीवों के सुरक्षित प्रजनन, पालन एवं प्रजाति को सुरक्षित रखने के लिए थाई मांगुर, बिग हेड एवं पाकु का पालन, मत्स्य बीज उत्पादन, संवर्धन, आयात, निर्यात, विक्रय परिवहन तथा विपणन पूर्णतः प्रतिबंधित किया गया है। आपको बता दें कि बिहार मत्स्य जलकर प्रबंधन अधिनियम 2006 (संशोधन 2007) के प्रावधानुसार बिग हेड एवं
विदेशी मांगुर का पालन, उत्पादन, संवर्धन इत्यादि दण्डनीय अपराध है।

Bihar Official Social Media

FacebookFollow Me
TelegramJoin Now
Bihar Official WebsiteClick Here
Official YouTube ChannelSubscribe
Telegram GroupClick Here
TwitterFollow Me
LinkedInFollow Me

Frequently Asked Questions FAQ

1 Q बिहार मछली फसल बीमा योजना के लिए कौन आवेदन कर सकता है?

Ans इस योजना हेतु वह व्यक्ति आवेदन कर सकता है जो मछली पालन का कार्य करता है|

2 Q बिहार मुख्यमंत्री मत्स्य फसल बीमा योजना क्या है?

Ans मुख्यमंत्री मध्य फसल बीमा योजना 2022 एक ऐसी योजना है जिसके माध्यम से बिहार के मछुआरों को मछलियों की मृत्यु होने पर बीमा राशि प्रदान की जाती है

3 Q बिहार मत्स्य फसल बीमा योजना में कितना अनुदान मिलता है?

Ans बिहार मत्स्य फसल बीमा योजना में मछली पालन करने वाले किसानों को 50% तक का अनुदान सरकार द्वारा दिया जाता है

4 Q सरकार ने मछुआरों के लिए कौन सी योजना शुरू करी है?

Ans सरकार ने मछली पालन करने वाले मछुआरों के लिए मत्स्य फसल बीमा योजना की शुरुआत करी है|

5 Q मछली फसल बीमा योजना से क्या लाभ होता है?

Ans बिहार में सी फसल बीमा योजना के माध्यम से मछली पालन करने वाले किसानों की मछलियों के साथ कोई दुर्घटना या क्षति होती हैं तो उसे अनुदान के रूप में बीमा राशि प्रदान की जाती है|

6 Q किन प्रजाति की मछलियों को पालने पर योजना का लाभ नहीं मिलता है?

Ans थाई मांगुर, बिग हेड एवं पाकु (रूपचंदा) विदेशी नस्ल कि मछलियों के पालन करने पर आपको इस योजना का लाभ नहीं मिल जाएगा|

7 Q बिहार मत्स्य फसल बीमा योजना हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि क्या है?

Ans इस योजना हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि 28 फरवरी 2022 है इससे पहले आपको आवेदन कर देना है|

8 Q बिहार मछली बीमा योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

Ans अगर आप बिहार मदद से फसल बीमा योजना हेतु ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आप बिहार मत्स्य विभाग की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर इस पोस्ट में बताई गई प्रक्रिया के आधार पर आवेदन कर सकते हैं|

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम आपतक सबसे पहले अपने इस Website के माधयम से पहुँचआते रहेंगे biharonlineportal.com, तो आप हमारे Website को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद,,,

नीचे दिए गए सोशल मीडिया के आइकॉन पर क्लिक करके आप हमारे साथ जुड़ सकते हैं जिससे आने वाली नई योजना की जानकारी आप तक पहुंच सके|

Leave a Comment

x