पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग बिहार सरकार| 2021 मछली पालन योजना अनुदान ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे

Name of service:-Bihar Matsya Sampada Yojana & मछली पालन  योजना अनुदान
Post Date:-11/08/2021
Post Update Date:-
Service By:-Fisheries Department
Motive:-For Promoting Fish Farming
Beneficiary:-Fisherman, Fish Worker, Fish Seller
Short Information:-पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग बिहार सरकार| 2021 मछली पालन योजना अनुदान ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे बिहार प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना 2021 के बारे में|क्योकि Bihar Matsya Matsya Sampada Yojana Sampada शुरू हो गये है |इस पोस्ट को पढ़कर आपको मत्स्य संपदा योजना बिहार से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी इसलिए इस पोस्ट पर अंत तक जुड़े रहे |

विषय की सूची

बिहार प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना क्या है

प्रधान मंत्री मत्स्य संपदा योजना बिहार को माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए शुरू कर दी है | बिहार के लिए “प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना” अन्तर्गत मात्स्यिकी विकास तथा मात्स्यिकी आधारभूत संरचना के विकास हेतु केंद्र सरकार के द्वारा ₹ 34.1834 करोड़ (चौतीस करोड़ अठारह लाख चौतीस हजार) तथा राज्यांश ₹ 22.7889 करोड़ (बाईस करोड़ अठहतर लाख नवासी हजार) अर्थात् कुल ₹ 56.9723 करोड़ (छप्पन करोड़ संतानवे लाख तेईस हजार) की योजनाओं की प्रशासनिक स्वीकृति प्रदान की गई है, जिससे कि बिहार राज्य के जितने भी मछली पालक हैं उन्हें इस योजना का लाभ प्रदान किया जा सकेगा |

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के अधीन उद्यमिता मॉडल अंतर्गत उद्यमियों द्वारा उत्पादन एवं उत्पादकता में बढ़ोतरी, संरचनात्मक एवं प्रसंस्करण प्रबंधन तथा मत्स्य प्रबंधन के कुल 29 अवयवों में स्वेच्छा से आवश्यकतानुसार विभिन्न अवयवों को समाहित कर योजना हेतु आवेदन किया जा सकता है। इस पोस्ट में हमने आपको प्रधान मंत्री मत्स्य संपदा योजना से जुड़ी सारी जानकारी प्रदान करी है, इसलिए आप इस लेख को अंत तक पढ़ें।

बिहार मुख्यमंत्री जनता दरबार शिकायत रजिस्ट्रेशन कैसे करें

Bihar Matsya Sampada Yojana Official Notification

पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग बिहार पशु एवं मत्स्य संसाधन

अतिपिछड़ी जातियों के लिए **मत्स्य विपणन एवँ मात्स्यिकी विकास
योजना ” हेतु वर्ष 2021-22 के लिए आवेदन आमंत्रित किये जाते हैं।

पशु एवं मत्स्य संसाधन चयन हेतु अर्हत्ताः-

  • मत्स्य रा योजना का लाभ उन्हीं को देय होगा जो मत्स्य विपणन ,/ परिवहन का कार्य कर रहे हैं।
  • मत्स्य बीज हैचरी निर्माण हेतु आवेदकों के पास पूर्व से उपलब्ध मत्स्य ब्रुडर,मत्स्य बीज उत्पादन का अनुभव, अधिक रकवा एवं स्वालागत से हैचरी करने वाले एवं मत्स्य पालन / हैचरी संचालन में प्रशिक्षण प्राप्त को प्राथमिकता।
  • उन्नत मत्स्य इनपुट हेतु लघु,/सीमान्त कृषक एवं जीविका समूह के आवेदक को प्राथमिकता

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का वर्गीकरण


प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के सही रूप से कार्यान्वयन से बिहार राज्य के मत्स्य उत्पादन एवं उत्पादकता में गुणात्मक वृद्धि के साथ-साथ मछुआरों/मत्स्य कृषकों का आर्थिक उत्थान तथा मत्स्य विपणन में भी सुगमता आएगी तथा बिहार राज्य में जो भी व्यक्ति मछली पालन करके अपना जीवन यापन कर रहे हैं उन्हें आर्थिक सहायता प्राप्त होगी और आय के नए और अधिक अवसर प्राप्त होंगे |

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के दो घटक है-

  • केन्द्रीय क्षेत्र की योजना (Central Sector Scheme)
  • केन्द्र प्रायोजित योजना (Centrally Sponsored Scheme)
  • लाभुक आधारित एवं गैर लाभुक आधारित दो उप घटक है।

केन्द्र के द्वारा प्रायोजित योजना को तीन प्रमुख वर्गों में बाँटा गया है जो निम्न है :-

  • मत्स्य उत्पादकता एवं उत्पादन में वृद्धि।
  • आधारभूत संरचना एवं पोस्ट हॉरवेस्ट मैनेजमेंट ।
  • मात्स्यिकी प्रबंधन एवं नियामक ढांचा (Regulatory Framework)।

जानिए किस किसको मिलेगा प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का लाभ

प्रधान मंत्री मत्स्य संपदा योजना बिहार ऑनलाइन आवेदन करने के लिए कुछ योग्यता निर्धारित की गई है इस योग्यता के अंतर्गत जो भी मत्स्य पालन करने वाले लोग आते हैं वह इस के लिए आवेदन कर सकते हैं | प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजनान्तर्गत निम्न लिखित वर्ग के लोग लाभ प्राप्त कर सकते हैं :-

  • मछुआरे
  • मत्स्य पालक
  • मत्स्य बिक्रेता
  • मत्स्य मजदूर
  • मत्स्य विकास अभिकरण
  • स्वयं सहायता समुह
  • संयुक्त दैयता समुह
  • मत्स्य जीवी सहयोग समिति
  • मत्स्य फेडरेशन
  • मत्स्य उद्यमी कम्पनि
  • मत्स्य उत्पादक समुह/संस्थान,
  • अनुसूचित जाति/जनजाति/महिला/दिव्यांग
  • राज्य सरकार एवं संबद्ध उपक्रम,

अत यह सभी प्रकार के लोग या क्षेत्रो से सम्बंधित लोग बोहर राज्य मात्स्यिकी विकास बोर्ड, भारत सरकार एवं संबद्ध उपक्रम आदि के माध्यम से इस योजना का लाभ ले सकेंगे।

यह भी पढ़े :-

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का उद्देश्य

  • सतत् उत्तरदायी, समावेशी एवं न्याय संगत तरीके से मात्स्यिकी संभाव्यों का दोहन।
  • जलस्रोतो का विस्तार, सघनता, विविधिकरण एवं उत्पादक उपभोग के द्वारा मछली के उत्पादक एवं उत्पादकता में वृद्धि।
  • लोगों के लिए रोजगार के नए नए अवसर खोलना |
  • मूल्य श्रृंखला का आधुनिकीकरण एवं सुदृढीकरण, शिकारमाही के पश्चात प्रबंधन एवं गुणवत्ता में सुधार।
  • मछुआ एवं मत्स्य कृषकों की आय को दुगना करना एवं रोजगार का सृजन ।
  • केंद्र सरकार के आत्मनिर्भर भारत स्कीम मैं बड़ा योगदान देना और आत्मनिर्भर बिहार की परिकल्पना को साकार करने में सार्थक कदम सिद्ध होनी है|

बिहार मत्स्य संपदा योजना की गतिविधियाँ

बिहार मत्स्य संपदा योजना की गतिविधियों के बारे में बात करें तो इनमें से कुछ मुख्य गतिविधियां इस प्रकार हैं

  • मत्स्य पालन का विकास
  • तालाब, हैचरी, फिड मिल, क्वॉलिटी टेस्टिंग लैब तथा मत्स्य भंडारण एवं संरक्षण के लिए संरचनाओं के निर्माण
  • समेकित मत्स्य पालन
  • रिर्सकुलेटरी एक्वाकल्चर (आर०ए०एस०)
  • बायोफ्लॉक
  • एक्यापोनिक्स
  • फिश फीड मिल
  • इनसुलेटेड एवं रेफ्रिजिरेटेड वाहन तथा फिश कियोस्क
  • विशेष क्षेत्र केज में मत्स्यपालन
  • अलंकारी मत्स्य पालन
  • विपणन एवं ब्रैडिंग
  • मत्स्य प्रसंस्करण इकाई
  • प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के अन्य अवयव

यह भी पढ़े :-

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना ऑनलाइन आवेदन हेतु जरुरी दस्तावेज

  • आधार नंबर
  • मोबाइल नंबर (Otp)
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • प्रशिक्षण संबंधी प्रमाण पत्र
  • भूमि का नक्शा जिसमें आवेदित खसरा एवं चौहद्दी अस्पष्ट अंकित हो
  • अधतन लगान राजस्व रसीद स्वअभिप्रमाणित
  • निजी भूमि का अधतन भूस्वामित्व प्रमाण पत्र स्वाभिप्रमाणित , लीज एकरारनामा ( योजनानुसार ) पट्टा प्रमाण पत्र ( पट्टे की स्थिति में भूस्वामी का भूस्वामित्व प्रमाण पत्र एवं योजनानुसार निवधित लीज होना अनिवार्य है । )
  • ” फोटो पहचान – पत्र ( आधार / भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त फोटो पहचान पत्रा की छायाप्रति)
  • शपथ पत्र की मूल प्रति (विहित प्रपत्र में)
  • बैंक पासबुक अथवा चेकाजिसमे बैंक का नाम शाखा का नाम , खाता स : IFSC कोउ सहित ) की स्वअभिप्रमाणित छायाप्रति
  • विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन ( DPR ) / स्य निहित प्रस्तावा SCP)
  • प्रस्तावित भूमि पर आवेदक का पोस्टकार्ड साईज का फोटोग्राफ , अक्षांश , देशांतर के साथ :
Important DatesDocuments Required
Service Begin:- 2020
Last Date for Online Apply:- 10/09/2021
Aadhar Card
PAN Card
Voter ID
Email ID
Mobile Number
Income Certificate
Cast Certificate
Birth Certificate

अगर आपको कोई भी Documents Resize करना है तो आप इस वेबसाइट Photo/Signature resize के थ्रू कर सकते हैं

Interested Candidates Can Read the Full Notification Before Apply Online

Important Link

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana ApplyClick Here
Machli Palan LoginClick Here
New Update Official NotificationClick Here
Click Here
Bihar Matsya Sampada Yojana Official NotificationClick Here
Shapath PatraClick Here
Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana DetailsClick Here
Bihar Matsya Sampada Yojana Notice BoardClick Here
Bihar Machhli Palan Yojana Shapat PatraClick Here
बिहार मुख्यमंत्री जनता दरबार शिकायत रजिस्ट्रेशन कैसे करेंClick Here
How to Apply Online Machli PalanClick Here
Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana FAQClick Here
Official WebsiteClick Here
NOTE:-
  1. यदि आप नये उपयोगकर्ता हैं तो पहले आप “online Apply” पर क्लिक कर अपना खाता बनाएं फिर “Login” करे .ओर यदि आपका खाता है तो Appication no और Password डालें नीचे वाले box में ऊपर दी गयी कोर्ड को डालें|
  2. लाभार्थी को स्वय का SCP / DPR तैयार कर प्रस्ताव के साथ समर्पित करना अनिवार्य होगा । DPR का टैम्पलेट www.fisheries.ahdbihar.in से डाउनलोड किया जा सकता है । किसी भी अवयव हेतु सर्पित DPR / SCP की राशि उक्त इकाई लागत से ज्यादा भी हो सकती है किंतु अनुदान उक्त अयवय हेतु वर्णित इकाई लागत के अनुरूप ही देय होगा ।

इस पोस्ट में हमने आपको प्रधानमंत्री मदद से संपदा योजना बिहार के बारे में सारी जानकारी प्रदान करी है इसलिए आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ें |

बिहार प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना से उत्पादकता कैसे बढ़ेगी

अब आपको इस पोस्ट में बताएंगे की आप प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के माध्यम से मछली पालन करके अपनी उत्पादकता कैसे बढ़ा सकते हैं | उत्पादकता बढ़ाने के लिए आपको निम्न चरणों को फॉलो करना होगा या फिर अपनी कार्यप्रणाली में इन चीजों में से जरूरी चीजों को जोड़ना होगा सभी जरूरी कार्य इस प्रकार है :-

  1. मत्स्य बीज हैचरी का अधिष्ठापन :-6 मत्स्य हैचरी का अधिष्ठापन प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत किया जाएगा। इसमें से 4 अन्य श्रेणी. 1 अनुसूचित जाति तथा 1 सभी श्रेणी के महिला लाभुक को देय होगा। मत्स्य हैचरी का इकाई लागत र 25.00 लाख निर्धारित है।
  2. रियरिंग तालाब का निर्माण – 250 हे0 रियरिंग तालाब का निर्माण योजनान्तर्गत किया जाएगा। इसमें से 145 हे0 अन्य श्रेणी, 40 हे | अनुसूचित जाति, 03 हे0 अनुसूचित जनजाति तथा 62 हे0 सभी श्रेणी के महिला लाभुक को देय होगा। रियरिंग तालाब का इकाई लागत र 7.00 लाख प्रति हे0 निर्धारित है।
  3. नया तालाब का निर्माण :-2000 नया तालाब का निर्माण योजनान्तर्गत किया जाएगा। इसमें से 116 हे0 अन्य श्रेणी, 32 हे0 अनुसूचित जाति, 02 हे |अनुसूचित जनजाति तथा 50 हे0 सभी श्रेणी के महिला लाभुक को देय होगा। नया तालाब का इकाई लागत 17.00 लाख प्रति हे निर्धारित है।
  4. उन्नत इनपुट योजना :- योजनान्तर्गत 200 हे0 जलक्षेत्र उन्नत इनपुट योजना से आच्छादित किया जाएगा। इसमें से 116 हे0 अन्य श्रेणी, 32 हे | अनुसूचित जाति, 06 0 अनुसूचित जनजाति तथा 47 हे0 सभी श्रेणी के महिला लाभुक को देय होगा। उन्नत इनपुट योजना का इकाई लागत ₹4.00 लाख प्रति हे0 निर्धारित है।
  5. बॉयोफ्लॉक तालाब का निर्माण :- योजनान्तर्गत 50 हे0 बॉयोफ्लॉक तालाब का निर्माण किया जाएगा। इसमें से 29 हे0 अन्य श्रेणी, 08 हे0 अनुसूचित जाति, 01 हे0 अनुसूचित जनजाति तथा 12 हे0 सभी श्रेणी के महिला लाभुक को देय होगा। बायोफ्लॉक तालाब का निर्माण का इकाई लागत ₹ 14.00 लाख प्रति हे० निर्धारित है।

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना ऑनलाइन आवेदन हेतु पात्रता

इस योजना के तहत पात्रता को कुछ प्रकाशित किया गया है कि जिन व्यक्तियों का नाम सूची में हे वह सभी प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का लाभ प्राप्त कर सकेंगे | व्यक्तिगत व्यवसायी/निजी फर्म मछुआरा,मत्स्यपालक ,मत्स्य श्रमिक ,मत्स्य विक्रेता ,स्वंय सहायता समूह , जे0एल0जी0 समूह ,मत्स्य उत्पादकों का समूह ,कंपनी ,मत्स्य सहकारी समूह ,आदि क्षेत्रों से जुड़े हुए व्यक्ति दल या समुदाय आदि सभी प्रकार के नागरिक इस योजना का लाभ उठा सकते हैं वही व्यक्ति इस योजना के लिए पात्र भी है |

Bihar Matsya Sampada Yojana Online Apply

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करे

  • प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का लाभ लेने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदनकरना होगा, आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको बिहार मत्स्य विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा |
  • इस आधिकारिक वेबसाइट का लिंक हमने ऊपर इंपॉर्टेंट लिंक सेक्शन में भी दिया है|
  • आप वहां पर क्लिक करते ही सीधे बिहार मत्स्य विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर पहुंच जाएंगे |
  • जैसे की वेबसाइट पर जाएंगे आपके सामने होमपेज पर हो जाएगा जहां से आपको मत्स्य पालन एवं मछुआरो का पंजीकरन” का ऑप्शन दिखाई देगा |
  • अब आपको मत्स्य पालन एवं मछुआरो का पंजीकरन पर क्लिक करना है |
  • जैसे ही आपकी करेंगे आपके सामने मत्स्य पालन एवं मछुआरों पंजीकरण फॉर्म ओपन हो जाएगा |
  • अब आपको इस आवेदन फॉर्म में अपना नाम अपनी जन्म दिनांक आवेदन की श्रेणी कंपनी समूह रजिस्ट्रेशन आपके घर का पता आदि सारी जानकारी देनी है |
  • इसके बाद आपको अपनी शैक्षणिक योग्यता लिंग आरती सारी जानकारी देनी है |
  • सभी जानकारी देने के पश्चात आपको एक बार अपने आवेदन फॉर्म को चेक कर लेना है और अंत में सबमिट पर क्लिक कर देना |
  • आपका आवेदन फॉर्म सफलतापूर्वक स्वीकार हो जाएगा |

मात्स्यिकी के क्षेत्र में लाभुक आधारित योजनाओं के लिये अनुदानित दर पर योजनाओं का लाभ लेने हेतु सुनहरा अवसर ।

मत्स्य के क्षेत्र में सतत् विकास एवं नीली क्रांति लाने के लिए प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना ( PMMSY ) की शुरूआत की गयी है ।

इस योजना का उद्देश्य मछली उत्पादन के साथ – साथ उत्पादकता बढ़ाना , प्रौद्योगिकी , आधुनिकीकरण और मूल्य श्रृंखला , गुणवत्ता को मजबूत करना एवं खामियों को दूर करना तथा मत्स्य उत्पादन के बाद के नुकसान को कम करना है ।

मछली पालन योजना अनुदानः-

 अनुसूचित जाति / जनजाति एवं महिलाओं के लिए इकाई लागत का 60 प्रतिशत एवं अन्य वर्ग के लिए इकाई लागत का 40 प्रतिशत अनुदान देय होगा ।

मछली पालन योजना अहर्ता लाभुक हेतु योग्यता

मत्स्य पालक , मत्स्य व्यवसायी , मत्स्य विक्रेता , स्वंय सहायता समूह , ज्वांइट लायबिलिटी समूह , मत्स्य सहकारी समिति , मत्स्य सहकारी संघ / महासंघ , मत्स्य किसानों एवं मत्स्य उत्पादकों का समूह . संस्था , कंपनी , उद्यमियों , दिव्यांग व्यक्ति आदि ।

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के आवेदन करने हेतु आवेदक वेबसाईट www.lisheries.ahdbiharin पर लॉगईन कर दिये गए Operational guidelines के अनुसार आवेदन विहित प्रपत्र में समर्पित करें । साथ ही DPR की एक प्रति अपने जिले के जिला मत्स्य कार्यालय में भी समर्पित करें ।

                   

आवेदन की प्रक्रिया :-

Bihar Machli Palan Yojana Subsidy Log In

  • यदि आप नये उपयोगकर्ता हैं तो पहले आप “online Apply” पर क्लिक कर अपना खाता बनाएं |
  • इसके बाद आपको होम पेज पर दिख रहे “Login” के आप्शन पर क्लिक करे |
  • यदि आपका खाता है तो Appication no और Password डालें नीचे वाले box में ऊपर दी गयी कोर्ड को डालें|
  • लाभार्थी को स्वय का SCP / DPR तैयार कर प्रस्ताव के साथ समर्पित करना अनिवार्य होगा ।
  • DPR का टैम्पलेट www.fisheries.ahdbihar.in से डाउनलोड किया जा सकता है ।
  • किसी भी अवयव हेतु सर्पित DPR /SCP की राशि उक्त इकाई लागत से ज्यादा भी हो सकती है किंतु अनुदान उक्त अयवय हेतु वर्णित इकाई लागत के अनुरूप ही देय होगा ।

मछली पालन योजना अनुदान

मात्स्यिकी के क्षेत्र में लाभुक आधारित योजनाओं के लिये अनुदानित दर पर योजनाओं का लाभ लेने हेतु सुनहरा अवसर ।

मत्स्य के क्षेत्र में सतत् विकास एवं नीली क्रांति लाने के लिए प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना ( PMMSY ) की शुरूआत की गयी है ।

इस योजना का उद्देश्य मछली उत्पादन के साथ – साथ उत्पादकता बढ़ाना , प्रौद्योगिकी , आधुनिकीकरण और मूल्य श्रृंखला , गुणवत्ता को मजबूत करना एवं खामियों को दूर करना तथा मत्स्य उत्पादन के बाद के नुकसान को कम करना है ।

मछली पालन योजना अनुदानः-

 अनुसूचित जाति / जनजाति एवं महिलाओं के लिए इकाई लागत का 60 प्रतिशत एवं अन्य वर्ग के लिए इकाई लागत का 40 प्रतिशत अनुदान देय होगा ।

आवेदन की प्रक्रिया :-

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के आवेदन करने हेतु आवेदक वेबसाईट www.lisheries.ahdbiharin पर लॉगईन कर दिये गए Operational guidelines के अनुसार आवेदन विहित प्रपत्र में समर्पित करें । साथ ही DPR की एक प्रति अपने जिले के जिला मत्स्य कार्यालय में भी समर्पित करें ।

Frequently Asked Questions FAQ

1 Q प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना कौन आवेदन कर सकता है ?

Ans प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा के लिए मछुआरा,मत्स्यपालक ,मत्स्य श्रमिक ,मत्स्य विक्रेता ,स्वंय सहायता समूह , जे0एल0जी0 समूह ,मत्स्य उत्पादकों का समूह जैसे आदि कई लोग आवेदन कर सकते हैं |

2 Q प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना शुरुवात किस राज्य से हुई ?

Ans प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना शुरुवात बिहार राज्य से हुई |

3 Q प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तारीख क्या है ?

Ans  प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तारीख 31/08/2021 है |

4 Q बिहार मत्स्य संपदा योजना की शुरुवात किसने करी ?

Ans मत्स्य संपदा योजना की शुरुवात माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने करी है |

5 Q मचुआरो के लिए सरकार ने कौन सी योजना शुरू की है ?

Ans मचुआरो के लिए सरकार ने प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना शुरू की है

6 Q प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना किसकी योजना है ?

Ans प्रधान मंत्री मत्स्य संपदा योजना केंद्र सरकार की योजना है और यह मछली पालन को बढ़ावा देने के इए शुरू की गई है |

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम आपतक सबसे पहले अपने इस Website के माधयम से पहुँचआते रहेंगे biharonlineportal.com, तो आप हमारे Website को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद,,,

नीचे दिए गए सोशल मीडिया के आइकॉन पर क्लिक करके आप हमारे साथ जुड़ सकते हैं जिससे आने वाली नई योजना की जानकारी आप तक पहुंच सके|

1 thought on “पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग बिहार सरकार| 2021 मछली पालन योजना अनुदान ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे”

Leave a Comment

x