किसी भी जमीन का बटवारा कैसे करें | बटवारा नामा Formete Download

Name of service:-jamin (Proparty) ka batwara kaise kare
Post Date:-24/09/2021
Post Update Date:-
Beneficiary:-Citizen Of Bihar
Department:-Revenue and Land Reforms Department Bihar
Apply Mode:-Offline
Short Information:-आप अपने जमीन का बंटवारा किसी भी विवाद की स्थिति उत्पन्न किए बिना कैसे कर सकते हैं| राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग द्वारा बिना किसी विवाद के जमीन बटवारे के लिए नया नियम लागु किया है । इस पोस्ट को पढ़कर आपको जमीन का बंटवारा कैसे करें  से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी इसलिए इस पोस्ट पर अंत तक जुड़े रहे।

विषय की सूची

जमीन बटवारे का नियम

बिहार राज्य सरकार के द्वारा अब आपसी सहमति के आधार पर भूमि विवाद (Land Dispute) सुलझाने की प्रकिया शूरु कर दी गई है। लोगो के भूमि विवाद का निपटारा करने के लिए बिहार सरकार कानून बना ने पर भी विचार कर रही है। आपको बता दें कि राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामसूरत राय के द्वारा भूमि विवाद निपटारे से संबंधित कुछ जानकारी प्राप्त हुई, उन्होंने बताया कि जिन भी मामूली बातों को लेकर भूमि विवाद हो रहा है, इससे कानून-व्यवस्था पर असर पड़ रहा है। जमीन का उपयोग भी बाधित हो रहा है।

बिहार सरकार इस विषय पर चर्चा कर रही है कि सहमति आधारित जमीन बंटवारा को कानूनी रूप दिया जाए। अभी के समय में इस नियम के प्रारूप पर विचार हो रहा है। बिहार राज्य में पुश्तैनी जमीन के बंटवारा में अड़चन विवाद का बेहद बड़ा कारण है। बिहार सरकार द्वारा ऐसा नियम निकाला जा सकता है कि परिवार के बहुमत सदस्यों की राय को कानूनी रूप दिया जाए। किसी परिवार में 10 सदस्य हैं और उनमें से कम से कम छह सदस्य बंटवारा के किसी एक स्वरूप पर सहमत हैं। ऐसे मामलों में सहमति पत्र तैयार कर उसे कानूनी मान्यता दे दी जाएगी।

भाइयों के बीच संपत्ति बंटवारे

बिहार सरकार के राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के द्वारा जमीन संबंधी विवादों को कम करने के लिए रोज नया प्रयोग किया जा रहा है और इसीलिए अब हार राज्य में अगर किसी से परिवार में संपत्ति का बंटवारा करवाना चाहते हैं तो उस संपत्ति का बंटवारा अब बहुमत के आधार पर भी हो सकता है। अर्थात अगर सरल भाषा में सुनते तो किसी परिवार में अगर 7 भाई है तो उसमे से 4 अगर बटवारा के लिए राजी होगा तो इस आधार पर किया गया बटवारा मान्य होगा।

अतः अगर आधे से एक ज्यादा भाई ने बंटवारे के लिए सहमति प्रदान करते हैं तो इसके लिए परिवार में सर्वसम्मति बनाने की जरूरत नहीं होगी। बिहार राज्य के कानूनी बंटवारे में तो यह व्यवस्था पहले से है लेकिन सरकार अब खानगी (पंचायत आधारित) बंटवारे में यह व्यवस्था करने जा रही है। लेकिन पंचायत आधारित बंटवारे में कुछ शर्तों का पालन करना होगा और यहां शर्त होगी कि पंचों में पंचायत प्रतिनिधियों का हस्ताक्षर होना जरूरी होगा।

यह भी पढ़े :-

पुश्तैनी जमीन का बंटवारा कैसे करें ?

बिहार राज्य में पुश्तैनी जमीन का बंटवारा अब नई व्यवस्था के माध्यम से होगा | समय-समय पर भूमि एवं राजस्व विभाग बिहार द्वारा नए-नए प्रयासों के माध्यम से जमीन बंटवारा में होने वाले विवाद को कम करने और रोकने की कोशिश की जाती हैं इसीलिए प्रकार से यह नई व्यवस्था लागू की गई है |

नई व्यवस्था में अगर पांच में से तीन भाई चाहेंगे तो बंटवारा मान्य होगा, लेकिन किसी की हकमारी नहीं होनी चाहिए। और इसी को ध्यान में रखते हुए पंचायत के लिए गठित समिति में मुखिया, हारे हुए मुखिया प्रत्याशी और वार्ड सदस्य का होना जरूरी होगा इसके अतिरिक्त पंचों के साथ आधे से अधिक हिस्सेदार का भी पंच लाइन में पर हस्ताक्षर करना जरूरी है, और इसी प्रकार राजस्व व भूमि सुधार विभाग पूरी जमीन का शिड्यूल के अनुसार सभी भाइयों के नाम अलग-अलग जमाबंदी निर्धारित कर दिया जाएगा।

बिहार में इस प्रकार से बंटवारे की प्रक्रिया को कानूनी मान्यता पहले ही प्राप्त हो चुकी है । इसके अंतर्गत परिवार का कोई सदस्य दूसरे को हिस्सा लेने से रोक नहीं सकेगा पंचायत प्रतिनिधियों का हस्ताक्षर जरूरी होगा बंटवारे के दस्तावेज पर विवाद कम करने को सरकार बनाने जा रही है नई व्यवस्था परिवार के बहुमत सदस्यों के अलावा पंचायत के मुखिया, मुखिया चुनाव के निकटतम प्रतिद्वंद्वी, वार्ड सदस्य और चकबंदी एवं राजस्व विभाग के अधिकारी-कर्मचारी दस्तखत करेंगे। अतः इस प्रक्रिया के माध्यम से आप आसानी से अपने पुश्तैनी जमीन का बंटवारा बिना किसी विवाद के कर पाएंगे |

बटवारा करने में लगने वाले कागजात

  • Death Certificate
  • Affidavit
  • Ration Card
  • Land Registry
  • Other Land Related Documents
  • Mobile No
  • Email ID
  • Aadhar Card

अगर आपको कोई भी Documents Resize करना है तो आप इस वेबसाइट Photo/Signature resize के थ्रू कर सकते हैं

Important Link

Sabhi District Ka Bihar Khatiyan Kaise NikaleClick Here
Bihar Bhumi Survey Online Form 2021Click Here
Bihar Krishi Nivesh Protsahan NitiClick Here
Bhumi Survey Naksha & LPM Online DownloadClick Here
Revenue and Land Reforms DepartmentClick Here
Bihar Official WebsiteClick Here
Note:-
अगर आप किसी भी जमीन का बंटवारा बिना किसी भी बात के करवाना चाहते हैं तो इसके लिए आप इस पोस्ट में दी गई जानकारी को अवश्य पढ़ें, क्योंकि इसके माध्यम से आप आसानी से बिना किसी विवाद के निष्पक्ष बंटवारा कर पाएंगे |

यह भी पढ़े :-

जमीन बटवारा करने बाद दाखिल ख़ारिज कैसे करें

दाखिल खारिज के बारे में अगर आसान भाषा में समझे तो मान लीजिए कि अगर आपको कोई नहीं जमीन खरीदनी है तो आपको जमीन के लिए पुख्ता दस्तावेजों की जरूरत होती है, अर्थात की दाखिल खारिज दस्तावेज दस्तावेज होता है जिनके माध्यम से आप अपनी जमीन के मालिकाना हक की पुष्टि कर पाते है |

ऑनलाइन दाखिल खारिज करने की प्रक्रिया के बारे में हमने विस्तार से एक पोस्ट में आपको सारी जानकारी दी है, इसलिए आप नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करके सीधे उस पोस्ट को पढ़ सकते हैं और ऑनलाइन दाखिल खारिज के बारे में तमाम नियम तथा प्रक्रिया जान सकते हैं|

Jamin Ka Batwara Kaise Kre | जमीन का परिवारिक बंटवारा कैसे करें

दादा परदादा का जमीन अपने नाम कैसे करें

अगर आप दादा परदादा की जमीन को अपने नाम पर करवाना चाहते हैं तो इसके लिए तीन प्रकार से आप आवेदन कर सकते हैं, दादा परदादा के जमीन को अपने नाम पर निम्न प्रक्रिया के माध्यम से करवा सकते हैं:-

  • आपसी सहमती बटवारा
  • पंचायत सहमती बटवारा
  • रजिस्ट्री बटवारा

चलिए अब इन तीनों प्रकार के बंटवारे के बारे में थोड़ा विस्तार से चर्चा कर लेते हैं |

आपसी सहमती बटवारा

आपसी सहमति बटवारा बंटवारे का सबसे कठिन और जटिल प्रकार है क्योंकि इसके माध्यम से होने वाले बंटवारे में जितने भी भाई होते हैं वह सभी एक जगह एकत्रित होकर आपस में बातचीत के माध्यम से अपनी जमीन के हिस्से कर लेते हैं | ऐसी स्थिति में बंटवारे के समय तो कोई समस्या नहीं होती लेकिन अगर मान लीजिए कि चार भाई हैं और जिनमें से एक को आगे चलकर आपत्ति होती है तो फिर तमाम भाइयों में विवाद की स्थिति उत्पन्न हो जाते हैं अतः हमें कभी भी इस प्रकार के बंटवारे का उपयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि इसका कोई वैल्यू नहीं होता है, और इसी बटवारे के वजह से आप कई लोगो को बड़ी से बड़ी मुशिबतो का सामना भी करना पड़ रहा है| अगर आप भी आगे चलकर किसी भी विवाद की स्थिति मैं नहीं पढ़ना चाहते तो इस प्रकार के बंटवारे का उपयोग ना करें|

पंचायत सहमती बटवारा

इस प्रकार के बंटवारे में जमीन के जितने भी हिस्सेदार हैं उनके अतिरिक्त पंचायत की भी उपस्थिति होती है | ये बटवारा भी आपसी सहमती बटवारा के सामान ही होता है, इसमें कुछ इस प्रकार से बंटवारा होता है कि आप के गाव के सरपंच या फिर मुखिया होते है उन्ही के देख रेख में बटवारा होता है, इस प्रकार के बंटवारे में भी कोई वैध दस्तावेज ना होने के कारण आगे चलकर समय में विवाद की स्थिति उत्पन्न होते हैं |

रजिस्ट्री बटवारा

यह जमीन के बंटवारे का सबसे वैध एवं सटीक तरीका है, इसके माध्यम से किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं आती है तथा अदालत के माध्यम से जमीन का बिल्कुल बराबर रूप से सभी भाइयों में बंटवारा होता है | तथा बंटवारा होने के पश्चात पावती एवं अन्य दस्तावेजों के माध्यम से आधिकारिक रूप से जमीन का मालिक भाइयों को सुनिश्चित कर दिया जाता है |

दो भाइयों में जमीन का बंटवारा

अगर दो भाइयों के बीच में जमीन का बंटवारा करवाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको ऊपर दी गई प्रक्रियाओं के माध्यम से गुजरना पड़ता है| अगर आप चाहते हैं कि आने वाले समय में जमीन से जुड़ा किसी भी प्रकार का विवाद सामने ना आए तथा भाइयों के बीच जमीन को लेकर विवाद की स्थिति उत्पन्न हुई थी इसके लिए आपको रजिस्ट्री बटवारा के माध्यम से जमीन के कुल इससे करवाने चाहिए| मान लीजिए कि अगर किसी व्यक्ति के 2 पुत्र हैं, तथा अब मोहन दोनों पुत्र अपनी जमीन का बंटवारा करना चाहते हैं तो वह अदालत की मदद ले सकते हैं| अदालत के द्वारा बिना किसी पक्षपात के दोनों भाइयों के नाम पर अपने पिता की कुल संपत्ति का आधा आधा हिस्सा प्रदान कर दिया जाएगा|

आगे के समय में किसी भी प्रकार की विवाद की स्थिति उत्पन्न ना हो इसके लिए अदालत के द्वारा जमीन से जुड़े सभी जमीनी दस्तावेज भी बनाकर तैयार कर दिए जाते है, अतः अगर दो भाइयों के बीच में जमीन का बंटवारा करवाना चाहते हैं तो इसके लिए रजिस्टर बंटवारे का सहारा लेना सबसे उचित है | अन्यथा आगे चलकर किसी भी प्रकार की विवाद की स्थिति उत्पन्न हो सकती हैं |

बिहार भूमि न्यायाधिकरण विभाग हेल्पलाइन

क्रoपदाधिकारी का नामपदनामTelephone number
1जस्टिस संजय प्रियमाननीय अध्यक्ष0612-2221117
2श्री अमरेंद्र पति त्रिपाठीमाननीय सदस्य (न्यायिक)0612-2221116
3डॉ सी० अशोकवर्धनमाननीय सदस्य(प्रशासनिक)0612-2226151
4श्री रवीन्द्र पटवारीमाननीय सदस्य (न्यायिक)
5श्री निशीत दयालनिबंधक

Bihar Official Social Media

FacebookClick Here
TelegramClick Here
Bihar Official WebsiteClick Here
Telegram GroupClick Here
TwitterClick Here
LinkedInClick Here

Frequently Asked Questions FAQ

1 Q घर का सरकारी बटवारा कैसे होता है?

Ans अगर आप घर का बटवारा करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कानून की मदद लेनी होगी इसके माध्यम से घर की कुल जमीन के जितने भी हिस्सेदार है उसके हिसाब से बंटवारा किया जाता है |

2 Q पिता की संपत्ति पर बेटे का क्या अधिकार है?

Ans पिता के नाम पर जितने भी संपत्ति है उस पर उस के कुल पुत्रों का बराबर अधिकार होता है अतः यदि किसी पिता के 3 पुत्र हेतु पिता की कुल संपत्ति पर तीनों का समान अधिकार रहेगा |

3 Q बिहार में जमीन का बंटवारा कैसे करें ?

Ans अगर आप जमीन का बंटवारा करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको रजिस्टर बटवारा विधि को फॉलो करना है, अर्थात की आपको अदालत के माध्यम से अपनी जमीन का कुल बराबर है इससे करवा लेने हैं जिससे आगे विवाद की स्थिति उत्पन्न नहीं होगी |

4 Q पुश्तैनी जमीन का बंटवारा कैसे किया जा सकता है ?

Ans अगर आप अपने पुश्तैनी जमीन का बंटवारा करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको आधे से एक अधिक भाई की सहमति होना जरूरी है, इसके बाद आप अदालत में कार्यवाही के माध्यम से अपनी जमीन का बंटवारा करवा सकते हैं |

5 Q जमीन का बंटवारा कितने प्रकार से हो सकता है ?

Ans आप कोई तीन प्रकार की विधि के माध्यम से जमीन का बंटवारा कर सकते हैं :- आपसी सहमती बटवारा, पंचायत सहमती बटवारा, रजिस्ट्री बटवारा |

6 Q जमीन का बंटवारा करवाने के लिए सबसे सही तरीका क्या है ?

Ans अगर आप जमीन का सबसे सही और बिना किसी पक्षपात के बटवारा करवाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको रजिस्ट्री बंटवारे की विधि का पालन करना चाहिए, अर्थात की आपको अदालत के माध्यम से अपने जमीन का बराबर भाइयों में बंटवारा करवा लेना चाहिए |

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम आपतक सबसे पहले अपने इस Website के माधयम से पहुँचआते रहेंगे biharonlineportal.com, तो आप हमारे Website को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद,,,

नीचे दिए गए सोशल मीडिया के आइकॉन पर क्लिक करके आप हमारे साथ जुड़ सकते हैं जिससे आने वाली नई योजना की जानकारी आप तक पहुंच सके|

Leave a Comment

x